About Contact Privacy Policy
IMG-LOGO
Home ताजाखबर राजनीति वार्ड 18 में तेजी से बदल रहे समीकरण, उम्मीदवार के करीबी रिश्तेदारों की छवि बिगाड़ सकती है खेल।
ताजाखबर

वार्ड 18 में तेजी से बदल रहे समीकरण, उम्मीदवार के करीबी रिश्तेदारों की छवि बिगाड़ सकती है खेल।

by Akhbar Jagat , Publish date - Jun 29, 2022 09:35PM IST
वार्ड 18 में तेजी से बदल रहे  समीकरण,
उम्मीदवार के करीबी रिश्तेदारों की छवि बिगाड़ सकती है खेल।

(राम राजपूत) // अख़बार जगत इंदौर // नगर निगम चुनाव में इस बार हर एक उम्मीदवार को अपने प्रतिद्वंद्वी से ज्यादा मुकाबला मौसम के साथ रहेगा। मानसून सक्रिय हो चुका है । इधर गली गली में चुनावी चकल्लस है उधर असमान में बादल भी अपनी तैयारी कर रहे है। भाजपा ने महापौर प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव को बनाया है जो कि संगठन में तो लोकप्रिय नाम है परंतु आम कार्यकर्ता के लिए नया नाम है । भार्गव संगठन के भरोसे है तो कोंग्रेस ने पहले से ही संजय शुक्ला का नाम घोषित कर रखा था इसी कारण शुक्ला निरंतर सक्रिय रह कर कार्यकर्ताओं से संवाद बिठाने में काफी हद तक सफल भी रहे है ओर उन्होंने लगभग सभी 85 वार्डो में अपनी स्थिति को मजबूत बनाने में कोई कसर नही छोड़ी है। शुक्ला का टिकीट तय होते ही लगभग हर विधानसभा में बड़ी संख्या में कोंग्रेस के बोट बड़े है । विधानसभा 2 के अंतर्गत आने वाले वार्ड क्र.18 में कोंग्रेस के भूपेंद्र चौहान ने इन सात सालों में मजबूत पकड़ बना रखी है । वही भाजपा से बिना किसी प्रतिस्पर्धा के आसानी से सोनली परमार को टिकीट मिला है परंतु उनके लिए उनके पति विजय परमार उर्फ विज्जु के पुराने रिकॉर्ड ओर उनके व्यवहार के कारण कार्यकताओं में काफी नाराजगी है । इसी को देखते हुवे विज्जु परमार ने जनसंपर्क के दौरान मतदाताओं के पाँव पकड़ कर रोने धोने का पैंतरा अपना रखा है । वही कोंग्रेस के भूपेंद्र चौहान अपनी साफ स्वच्छ छवि ओर विकास कार्यो के कारण मतदाताओं को अच्छे लग रहे है । इस बार संजय शुक्ला के टिकीट होने से वार्ड 18 में कॉंग्रेस का वोट बैंक बढ़ने के साथ ही कार्यकर्ताओं में उत्साह है वही विज्जु परमार का रिकॉर्ड खराब होने ओर कार्यकर्ताओ से ऊटपटांग भाषा बोलने के कारण अंदर ही अंदर भाजपा के कार्यकर्ता नर्वस ओर नाराज है । विधानसभा 2 के ही वार्ड 19 की बात करे तो यहाँ कॉंग्रेस छोड़ कर भाजपा का दामन थामने वाले राधा किशन जायसवाल की पत्नी सध्या जायसवाल को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया है जिनकी स्थिति मजबूत दिखाई दे रही है । यहाँ से कॉंग्रेस से अनिता राजा पटेल को टिकीट मिला है । वही एक निर्दलीय उम्मीदवार रेखा अशोक यादव भी मैदान में है जो वार्ड 19 का समीकरण गड़बड़ा सकते है । यहाँ से उनके पति अशोक यादव काफी समय से समाज सेवा में सक्रिय रहे है । खैर चुनावी समीकरण रोज बदलते रहते है लेकिन मतदाताओं के मन की बात तो परिणाम आने के बाद ही पता चलेगी ।

Share:
Facebook Twitter Whatsapp

Related News